Pages Menu
TwitterRssFacebook
Categories Menu

Posted on Mar 5, 2016 in Hasya Vyang Poems | 0 comments

बुलाय गई राधा प्यारी – अल्हड़ बीकानेरी

बुलाय गई राधा प्यारी – अल्हड़ बीकानेरी

Introduction: See more

Barsana is the home village of Radha, and ‘Kanha Barsane main aayi jaiyo’ is quite a famous geet about the teasing that goes on between Radha and Krishna. Here hasya kavi Allhad Bikaneri has made a parody of this old song in the modern context. How things have changed!- Rajiv Krishna Saxena

कान्हा बरसाने में आय जइयो
बुलाय गई राधा प्यारी

असली मक्खन कहां आजकल‚ शार्टेज है भारी
चरबी वारौ बटर मिलैगा‚ फ्रिज में हे बनवारी
आधी टिकिया मुख लिपटाय जइयो
बुलाय गई राधा प्यारी

मटकी रीती पड़ी दही की‚ बड़ी अजब लाचारी
सपरेटा कौ दही मीलैगो‚ कप में हे बनवारी
छोटी चम्मच भर के खाय जइयो
बुलाय गई राधा प्यारी

नंदन बन के पेड़ काट गए‚ बने पार्क सरकारी
टुविस्ट करत गोपियां मिलैंगी जिनमें हे बनवारी
संडे के दिन रास रचा जइयो
बुलाय गई राधा प्यारी

जमना तट सुनसान‚ मौन है बांसुरिया बेचारी
गूंजत मधुर गिटार मिलैगो‚ ब्रज में हे बनवारी
फिल्मी डिस्को ट्यून सुनाय जइयो
बुलाय गई राधा प्यारी

सूखे बृज के ताल‚ गोपियां स्विंमिंग पूल बलिहारी
पहने बेदिंग सूट मिलैंगी‚ जल में हे बनवारी
उनके कपड़े चुस्त चुराय जइयो
बुलाय गई राधा प्यारी

सूनौ पनघट‚ फूटी गगरी‚ मेम बनी ब्रजनारी
जूड़ौ गुंबद छाप मिलैंगौ‚ सिर पै हे बनवारी
दरसन कर प्यास बुझाय जइयो
बुलाय गई राधा प्यारी

कान्हा बरसाने में आय जइयो
बुलाय गई राधा प्यारी

~ अल्हड बीकानेरी

 
Classic View Home

1,058 total views, 1 views today

Post a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *