Pages Menu
TwitterRssFacebook
Categories Menu

Posted on Apr 22, 2018 in Bal Kavita | 0 comments

गरिमा का मेमना – राजीव कृष्ण सक्सेना

गरिमा का मेमना – राजीव कृष्ण सक्सेना

Introduction: See more

We all have read the popular nursery poem “Mary had a little lamb”. Well, here is a Hindi translation that I have done. It has to be read just as the English version. Garima (my daughter) has done the illustration. – Rajiv Krishna Saxena

गरिमा का था एक मेमना
एक मेमना
एक मेमना
गरिमा का था एक मेमना
शुद्ध श्वेत था रंग

जहाँ जहाँ भी गरिमा जाती
गरिमा जाती
गरिमा जाती
जहाँ जहाँ भी गरिमा जाती
रहता उसके संग

एक दिन उसको पीछे पीछे
पीछे पीछे
पीछे पीछे

एक दिन उसको पीछे पीछे
चला गया वो स्कूल

बच्चों को तो मजा आ गया
मजा आ गया
मजा आ गया
बच्चों को तो मजा आ गया
उसे देख कर खूब

टीचर ने फिर बाहर निकाला
बाहर निकाला
बाहर निकाला
टीचर ने फिर बाहर निकाला
पर वो वहीं अड़ा

गरिमा की वो बाट जोहते
बाट जोहते
बाट जोहते
गरिमा की वो बाट जोहते
बाहर खड़ा रहा

गरिमा उसको क्यों रखती है
क्यों रखती है
क्यों रखती है
गरिमा उसको क्यों रखती है
बच्चों ने पूछा

क्योंकी उससे प्यार करती है
प्यार करती है
प्यार करती है

~ राजीव कृष्ण सक्सेना

Classic View Home

708 total views, 1 views today

Post a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *