Koti koti badhai

Submitted / Updated On: Tuesday, November 9, 2010 | Written By: Ram Shanker Verma

Search within Feedback:

Keyword:

गीता कविता पर हिंदी के मूर्धन्य कवियों की हृदयस्पर्शी रचनाएँ एक मंच पर उपलब्ध कराने के लिए साहित्यानुरागी श्री राजीव कृष्ण सक्सेना जी का प्रयास सर्वथा स्तुत्य है. जो कवितायेँ सहज सुलभ नही हैं, उन्हें गीता कविता पर पा कर एक बिछड़े प्रिय के मिलने का-सा आनन्द milta है. kotishah बधाई.