Wonderful !

Submitted / Updated On: Monday, July 13, 2009 | Written By: Rajan Prakash

Search within Feedback:

Keyword:

ऑफिस की शुरुआत मेल चेक करने से होती है. इनबॉक्स में इतने मेल होते हैं कि ज्यादातर बिना पढ़े डिलिट कर देता हूं. आज किसी मित्र द्वारा भेजा गया इस वेबसाइट का लिंक देखा. आदतन डिलिट करने ही जा रहा था कि अचानक सोचा क्यों न एक बार क्लिक कर ही लिया जाए. पिछले एक घंटे से इसके पन्ने खँगाल रहा हूं और यही सोच रहा हूं कि डिलिट करके मुझे पछताना पड़ता. इतनी अच्छी वेबसाइट बनाने के लिए आपको साधुवाद. आशा है इसमें पन्ने जुड़ते जाएंगे जो साहित्यप्रेमियों के लिए किसी भेंट से कम नहीं..कोटि-कोटि शुभकामनाएं राजन प्रकाश